Custom image
घोषणाएं
Monday, 17 September 2018

अर्धवार्षिक परीक्षा :-

III-XI(अर्धवार्षिक परीक्षा) PERIODIC TEST-2 FOR CLASSES IX-X & XII  परीक्षा 1 october 2018 से प्रारम्भ हो रही है ...विस्तृत समय सारणी विद्यालय की वेबसाइट के शेक्षिक->परीक्षा->समय सारणी लिंक पर अपलोड की गई है |

अर्धवार्षिक परीक्षा :-

11 वी  साइंस और कॉमर्स की अर्धवार्षिक परीक्षा 1 october 2018 से प्रारम्भ हो रही है ...विस्तृत समय सारणी विद्यालय की वेबसाइट के शेक्षिक->परीक्षा->समय सारणी लिंक पर अपलोड की गई है |


स्वच्छता पखवाडा कार्यक्रम :-

स्वच्छता पखवाडा कार्यक्रम का आयोजन 1 सितम्बर 2018 से 15 सितम्बर 2018 तक किया जायेगा | स्वच्छता पखवाडा कार्यक्रम के लिए यहाँ क्लिक करें

 

संस्कृत सप्ताह कार्यक्रम :-

संस्कृत सप्ताह कार्यक्रम के लिए यहाँ क्लिक करे |


जिला स्तरीय 15 अगस्त कार्यक्रम :-

केन्द्रीय विद्यालय बारां ने जिला स्तरीय 15 अगस्त के सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रथम स्थान प्राप्त किया........विद्यालय की ओर से सभी छात्रों को बधाई एवं शुभकामनाये |

 


 

हमारे प्रेरणा स्त्रोत

प्राचार्य

श्री सुरेन्द्र कुमार बोर्दिया

(प्राचार्य)

वीडियोस (चल चित्र )

नवीनतम छायाचित्र

  • Photo Title 1
  • Photo Title 2
  • Photo Title 3
  • Photo Title 4
  • Photo Title 5

आज का सुविचार :

उज्जवल भारत का सपना स्वच्छ वातावरण हो अपना ,स्वच्छ विचारो का प्रतिपादन तभी होता है जब हम स्वच्छ वातावरण में विचरण करते है|

दृष्टि

गौरव और विविधता इस संस्था, शैक्षिक नेतृत्व और विद्वानों उपलब्धि अपने मिशन के दर्शन के जुड़वां पहचान कर रहे हैं। । स्कूल के समर्पित कर्मचारियों से प्रेरणा एक उद्देश्य इस अल्मा मीटर को प्राप्त करने में मदद करता है।


-
सामना करने के लिए सुसज्जित बना निर्णय।

- उच्च गुणवत्ता न केवल अकादमिक उत्कृष्टता के उद्देश्य से शिक्षा, लेकिन यह भी सर्वांगीण विकास के साथ छात्रों को प्रदान करने के लिए।

राष्ट्र की भलाई के लिए योगदान करने के लिए।त्रों को मार्शल आर्ट में निपुण, पेंटिंग बनाने के लिए। कुशल शिल्प, सार्वजनिक बोल, एथलेटिक्स, भाषा और कंप्यूटर प्रौद्योगिकी।
- एक व्यक्तित्व का एक एकीकृत विकास में मदद मिलेगी और उन्हें 'में भारतीय सत्ता' की भावना सुनिश्चित करने के लिए।



हमारा ध्येय

केंद्रीय विद्यालय संगठन के चहूँमुखी ध्येय है: -

१.  केंद्रीय सरकार के स्थानांतरणीय कर्मचारियों, जिनमें रक्षा तथा अर्धसैनिक बलों के कर्मी भी शामिल हैं, के बच्चों को शिक्षा के सामान्य कार्यक्रम के तहत शिक्षा प्रदान कर उनकी शैक्षिक आवश्यकताओं को पूरा करना|

२.  विद्यालयी शिक्षा के क्षेत्र में श्रेष्टता और गतिशीलता निर्धारित करना|

३.  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सी.बी.एस.ई.), राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एन.सी.ई.आर.टी.) इत्यादि जैसे अन्य निकायों के सहयोग से शिक्षा में प्रयोगात्मकता तथा नवाचारों को प्रारम्भ करना और बढ़ाना|

४.  बच्चों में राष्ट्रीय एकता और “भारतीयता” की भावना विकसित करना|

Last Updated (Tuesday, 18 September 2018 13:40)